Sputnik Vaccine Registration, Efficacy, Price, Side Effects, Dose Gap

स्पुतनिक वैक्सीन पंजीकरण, प्रभावकारिता, मूल्य, साइड इफेक्ट्स, डोज़ गैप और इस रूसी वैक्सीन पर अन्य विवरण यहां से देखे जा सकते हैं। देश में इस समय कोरोना मरीजों की संख्या दिन रात बढ़ती जा रही है। ऐसे में स्पुतनिक वैक्सीन काफी उपयोगी साबित हो सकती है। स्पुतनिक वी द्वारा बनाई गई इस वैक्सीन में वो सारे गुण बताए जा रहे हैं जो में वरदान साबित होंगे कोरोना महामारी. इस वैक्सीन पर रिसर्च के बारे में अधिकारियों ने काफी विस्तार से बताया है। यूरोपीय चिकित्सा एजेंसी (ईएमए) जल्द ही इस टीके के स्पुतनिक वैक्सीन पंजीकरण को मंजूरी दे सकती है। उम्मीद है कि जल्द ही इस वैक्सीन को बाजार से खरीदना संभव होगा।

स्पुतनिक वैक्सीन पंजीकरण

सरकार जल्द ही भारत में स्पुतनिक वैक्सीन पंजीकरण शुरू करने के प्रयास कर रही है। उम्मीद है कि जल्द ही भारत के सभी राज्यों में इस वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगा। वैक्सीन को अब तक अर्जेंटीना, बेलारूस, सर्बिया और अन्य देशों में मंजूरी दी जा चुकी है। आरडीआईएफ ने फरवरी में यूरोपीय संघ में दवा को मंजूरी देने के लिए आवेदन किया था। कंपनी की ओर से सौंपे गए रिव्यू के आधार पर इस वैक्सीन को जल्द ही मंजूरी मिल सकती है। के पंजीकरण स्पुतनिक वी कोरोनावायरस वैक्सीन जल्द शुरू किया जा सकता है।

वर्तमान में, भारत में सरकारी अस्पतालों में COVID-19 वैक्सीन मुफ्त उपलब्ध कराई जा रही है। वहीं आप निजी अस्पताल में पैसे देकर अपना टीकाकरण करवा सकते हैं। निःशुल्क वैक्सीन प्राप्त करने के लिए आपको के पोर्टल पर जाकर अपना पंजीकरण कराना होगा स्पुतनिक वैक्सीन पंजीकरण मुंबई। भारत में जल्द ही Sputnik V के रजिस्ट्रेशन शुरू होने वाले हैं। वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया अभी शुरू नहीं हुई है।

स्पुतनिक वैक्सीन प्रभावकारिता

रूस में बनी इस वैक्सीन पर रिसर्च के बाद डॉ. रेड्डीज लैबोरेट्रीज ने इसे भारत में इम्पोर्ट करना शुरू कर दिया है। दवा को अभी तक भारतीय दवा नियामक द्वारा प्रशासित नहीं किया गया है। इस दवा के उपयोग के समय स्पुतनिक वैक्सीन की प्रभावशीलता दर कितनी थी, इसके बारे में जारी आंकड़ों में 91.6% देखा गया है। इस दवा की पहली खुराक के 18 दिन बाद ही मानव शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि देखी गई है।

स्पुतनिक वैक्सीन

उम्मीद है कि जल्द ही इस दवा का रजिस्ट्रेशन शुरू कर दिया जाएगा। यह स्पुतनिक वैक्सीन प्रभावकारिता प्रतिशत भारत में लगभग 91% देखी जाती है। जो हमें covid 19 और SARS-CoV-2 संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकता है। यह दवा 18 वर्ष के आयु वर्ग में उपयोग करने के लिए डिज़ाइन की गई है। उम्मीद है कि जल्द ही इसकी खुराक भारत में आयात करना शुरू कर देगी।

संबंधित खोजें

स्पुतनिक वैक्सीन की कीमत

अभी तक Sputnik V Vaccine Price के ऊपर कुछ नहीं कहा जा सकता क्योंकि इसे लेकर मार्केट में साड़ी की काफी अफवाहें फैलाई जा रही हैं। इस दवा की अनुमानित कीमत 700 से 800 रुपये के आसपास हो सकती है, जिसकी अभी पुष्टि नहीं हुई है। जैसे ही यह दवा भारत में आयात होना शुरू होगी, भारत में स्पुतनिक वी वैक्सीन की कीमत को अपडेट कर दिया जाएगा।

फिलहाल इस दवा को आयात करने वाली कंपनी ने इसकी कीमत करीब 10 अमेरिकी डॉलर रखी है. इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में इस दवा की कीमत करीब 10 डॉलर यानी करीब 700 से 800 रुपये बताई जा रही है. इस वैक्सीन की एक-एक डोज आपको 10 डॉलर तक लग सकती है। सरकार इस दवा को फ्री में लागू कर रही है, इसलिए इस स्पुतनिक वी वैक्सीन का रजिस्ट्रेशन शुरू किया गया है।

स्पुतनिक वैक्सीन के साइड इफेक्ट

रूस में गमलेया नेशनल सेंटर ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी द्वारा बनाए गए इस कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक के बाद कुछ सामान्य दुष्प्रभाव हुए। यह दुनिया का पहला वैक्सीन है, जिसमें SARS-CoV-2 वायरस से लड़ने की ताकत है। भारत समेत 64 देशों में अब तक इस दवा का इस्तेमाल किया जा चुका है। कॉमन स्पुतनिक वी वैक्सीन के इस्तेमाल के बाद साइड इफेक्ट देखने को मिलते हैं जिसके बाद इसे मंजूरी दे दी जाती है।

वैक्सीन के बाद देखे गए आम दुष्प्रभाव:-

  1. थकान (70%)
  2. जोड़ों का दर्द (46.4%)
  3. सिरदर्द (64.7%)
  4. मांसपेशियों में दर्द (61.5%)
  5. ठंड लगना (45.4%)
  6. बुखार (15.5%)
  7. मतली और उल्टी (23%)

स्पुतनिक वैक्सीन की खुराक

इस टीके की पहली और दूसरी खुराक के बाद स्पुतनिक वैक्सीन डोज इंटरवल कितना होना चाहिए, इस बारे में लेख में विस्तार से बताया गया है। इस दवा की पहली खुराक के बाद 21 दिन यानि 3 हफ्ते का गैप देना अनिवार्य है। स्पुतनिक वैक्सीन की खुराक के बीच 21 दिन का अंतर आवश्यक है।

यह भी जांचें:

इस दवा का उपयोग केवल 18 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों पर ही किया जाना है। अधिक जानकारी के लिए आप होम पेज पर वैक्सीन लेख पढ़ सकते हैं। आप अपनी शिकायतें और सुझाव नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं।

Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.